खुशखबरी : नालंदा में 2795 करोड़ रुपये से बनेंगी 3 नई रेल लाइनें, जानिए सबकुछ

Nalanda News (नालंदा न्यूज) / बिहारशरीफ | जल्द ही नालंदा जिले में तीन नई रेल लाइनों का निर्माण शुरू (Three new railway lines are being built in Nalanda) होगा। इनमें इस्लामपुर-मानपुर [Islampur-Manpur Rail Line (Bodhgaya)], बिहारशरीफ-जहानाबाद (Biharsharif-Jehanabad Railway Line) और बिहारशरीफ-नवादा रेलवे लाइन (Biharsharif-Nawada Railway Line) शामिल हैं।

इन तीनों रेलवे लाइनों के निर्माण के संबंध में सर्वे का काम पूरा हो चुका है। सर्वे रिपोर्ट रेल मंत्रालय (Ministry of Railways) के पास भेज दी गयी है। इन तीनों रेल लाइनों का निर्माण हो जाने पर करीब 80 लाख की आबादी को फायदा (By building the railway line in nalanda, 80 lakh people will benefit) होगा। पूर्व से Nalanda जिले में 3 रेलवे लाइनों पर ट्रेनों का आवागमन हो रहा है।

पूर्व से तीन रेल लाइनों पर दौड़ रही हैं ट्रेनें

इनमें बख्तियारपुर-राजगीर-तिलैया रेलखंड (Bakhtiyarpur-Rajgir-Tilaiya Rail Line), बिहारशरीफ-दनियावां (Biharsharif-Daniyawan Rail Line) एवं इस्लामपुर-फतुहा रेलखंड (Islampur-Fatuha Rail Line) शामिल हैं। एक रेलखंड बिहारशरीफ बरबीघा- शेखपुरा रेल लाइन निर्माण (Biharsharif Barbigha – Sheikhpura Rail Line) का कार्य अंतिम चरण में हैं।

इन सभी को मिला कर नालंदा जिले में सात रेलखंड हो जायेंगे। इन रेल परियोजनाओं से जैन व बुद्ध सर्किटों के तहत आने वाले पावापुरी (Pawapuri) बोधगया, जहानाबाद (Jehanabad Railway Station) सीधे रेल लाइन से जुड़ जायेंगे. जैन व बौद्ध पर्यटकों (Jain and Buddhist tourists in Nalanda) की आस्था व सुविधा का ध्यान रखते हुए इन नवी रेल लाइनों का निर्माण किया जाना है.

NALANDA REPORTER
बिहारशरीफ रेलवे स्टेशन

करीब 3 हजार करोड़ खर्च होंगे

इस्लामपुर-मानपुर रेलखंड [Islampur-Manpur Rail Line (Bodhgaya)] के बन जाने से इस क्षेत्र की करीब 40 लाख की आबादी को फायदा होगा. करीब 42 किलोमीटर लंबी इस रेल लाइन के निर्माण पर 788.27 करोड़ रुपये खर्च होंगे.

बिहारशरीफ-जहानाबाद रेलखंड (Biharsharif-Jehanabad Railway Line) के निर्माण होने से करीब 20 लाख की आबादी को फायदा होगा. करीब 66 किलोमीटर लंबी इस रेल लाइन के निर्माण पर लगभग एक हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे.

इसी प्रकार बिहारशरीफ-नवादा रेल लाइन (Biharsharif-Nawada Railway Line) के निर्माण हो जाने पर रेल लाइन के निर्माण पर 10 अरब सात करोड़ 58 लाख रुपये खर्च होंगे.

NALANDA REPORTER
ये भी पढ़ें: बिहारशरीफ के 144 जगहों पर लगेंगे 550 सीसीटीवी कैमरे

कहां कहां बनेंगे स्टेशन

बिहारशरीफ-जहानाबाद रेलखंड पर 13 स्टेशन बनाए जाने का प्रस्ताव है। जिसमें तीन जंक्शन बनाए जाएंगे। जिसमें एक बिहारशरीफ, दूसरा एकंगरसराय और तीसरा जहानाबाद में जंक्शन का प्रस्ताव है । जहां ये रेललाइन जाकर मिल जाएगी । इसके अलावा जहां जहां स्टेशन या हॉल्ट बनाया जाना है उसमें सोहसराय, देकपुरा, जयप्रकाशपुर, बाराखुर्द, पिलिछ, मदनपुर, एकंगरसराय, तेल्हाड़ा, बंधुगंज, नगवा, और जहानाबाद कोर्ट शामिल है।

इस्लामपुर-मानपुर (बोधगया) रेलखंड पर 8 स्टेशन बनाए जाने का प्रस्ताव है। जिसमें दो जंक्शन बनाए जाएंगे। जिसमें एक बिहारशरीफ, दूसरा मानपुर (बोधगया) में जंक्शन का प्रस्ताव है । जहां ये रेललाइन जाकर मिल जाएगी । इसके अलावा जहां जहां स्टेशन या हॉल्ट बनाया जाना है उसमें मुसौली, जमुआवां, नौडीहा, खिजरसराय, मकसुदपुर और बरेवा शामिल है।

बिहारशरीफ-नवादा रेलखंड पर 5 स्टेशन बनाए जाने का प्रस्ताव है। जिसमें दो जंक्शन बनाए जाएंगे। जिसमें एक बिहारशरीफ, दूसरा नवादा में जंक्शन का प्रस्ताव है । जहां ये रेललाइन जाकर मिल जाएगी । इसके अलावा जहां जहां स्टेशन या हॉल्ट बनाया जाना है उसमें प्रभु बिगहा, आदमपुर और समाई शामिल है।

नई रेल लाइनों में इस्लामपुर- मानपुर, बिहारशरीफ – जहानाबाद, व बिहारशरीफ – नवादा शामिल

रेलयात्रा सबसे सुविधाजनक : एक स्थान से दूसरे स्थान की यात्रा करने में सबसे आरामदायक व सुविधाजनक रेल यात्रा है. इसके अलावा सामान को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने में रेल से सबसे सस्ता भी होता है. रेलयात्रा करनेवाले यात्रियों के बीच बातचीत भी होती रहती है. सोने, पढ़ने, संगीत सुनने, वीडियो देखने के साथ ही समय बिताने में सुविधा होती है, भाषा और विभिन्न संस्कृतियों के बारे में जानने व उन्हें महसूस करने का आनंद रेल यात्रा में मिलता है।

NALANDA REPORTER
आंकड़े की नजर में इस्लामपुर-मानपुर (बोधगया) रेलखंड:

स्टेशन : इस्लामपुर, मुसौली, जमुआवां, नौडीहा, खिजरसराय, मकसुदपुर, बरेवा, मानपुर
लंबाई : 41.96 किमी
बड़े पुलों की संख्या : 03
छोटे पुलों की संख्या : 22
रोड ओवर ब्रिज (आरओबी) : 0
रोड़ अंडर ब्रिज (आरयूबी) : 15
स्टेशनों की संख्या : 08 (इस्लामपुर, मुसौली, जमुआवां, नौडीहा, खिजरसराय, मकसुदपुर, बरेवा, मानपुर)
क्रॉसिंग की संख्या : 02
हॉल्ट की संख्या : 04
जंक्शन : 02 (इस्लामपुर और मानपुर)

आंकड़े की नजर में बिहारशरीफ-जहानाबाद रेलखंड :

लंबाई : 66.6 किलोमीटर
बड़े पुलों की संख्या : 21
छोटे पुलों की संख्या : 59
आरओबी (रोड ओवर ब्रिज) : 0 (शून्य)
आरयूबी (रोड अंडर ब्रिज) : 13
प्रस्तावित जंक्शन : तीन (बिहारशरीफ, एकंगरसराय और जहानाबाद)
क्रॉसिंग स्टेशन : एक (परवलपुर)
हॉल्ट की संख्या : 05 (सोहसराय, देकपुरा, ओप, तेल्हाड़ा और काको)

आंकड़े की नजर में बिहारशरीफ-नवादा रेलखंड:

लंबाई : 36.6 किमी
बड़े पुलों की संख्या : 02
छोटे पुलों की संख्या : 46
रोड ओवर ब्रिज (आरओबी) : 03
रोड अंडर ब्रिज (आरयूबी) : 11
स्टेशन की संख्या : 05 (बिहारशरीफ, प्रभु बिगहा, आदमपुर, समाई, नवादा)
क्रॉसिंग की संख्या : 02
हॉल्ट की संख्या : 01

क्या कहते हैं अधिकारी : नालंदा जिले में पूर्व से तीन रेलखंडों पर ट्रेने दौड़ रही है. बिहारशरीफ शेखपुरा रेल लाइन का निर्माण जल्द पूरा होने वाला है. इसे पूरा हो जाने पर एक नयी रेल लाइन मिल जायेगी. इसके अलावा तीन नयी रेल लाइन के निर्माण के लिए सर्वे का काम पूरा हो चुका है. इनमें इस्लामपुर-मानपुर, बिहारशरीफ-जहानाबाद व बिहारशरीफ- नवादा रेल लाइन शामिल है.

शिव कुमार प्रसाद, डिप्टी चीफ इंजीनियर, पूर्व मध्य रेलवे, राजगीर

Nalanda News से जुड़े, ताजा अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें।

नालंदा रिपोर्टर टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है। यहां क्लिक करके आप सब्सक्राइब कर सकते हैं।

Share on:

Nalanda Reporter is Bihar Leading Hindi News Portal on Crime, Politics, Education, Sports and tourism.