आपकी जेब पर बढ़ेगा होल्डिंग टैक्स का भार, बिहारशरीफ नगर निगम शहर की प्रॉपर्टी का कराएगा सर्वे

NALANDA : बिहारशरीफ नगर निगम (Municipal Corporation Biharsharif) द्वारा शहर के सभी वार्डों में घर-घर जाकर सर्वे कराया जायेगा. अगले कुछ दिनों में सर्वे का काम शुरू हो जायेगा. ट्रायल के तौर पर शहर के किसी एक वार्ड का सबसे पहले सर्वे किया जायेगा. उसके बाद नगर निगम के सभी वाडों का सर्वे कराया जायेगा. सर्वे के दौरान नगर निगम के कर्मी घर-घर जाकर लोगों से मकान व होल्डिंग टैक्स की स्थिति के साथ ही मकान मालिक की समस्याओं की जानकारी प्राप्त की जायेगी.

नगर निगम के द्वारा एक Mobile App तैयार किया जायेगा और नगर निगम का अपना वेबसाइट (Website) भी तैयार किया जायेगा. इस App व वेबसाइट पर नगर निगम क्षेत्र में स्थित भवनों की पूरी जानकारी अपलोड होगी. कोई भी व्यक्ति उस ऐप या वेबसाइट पर जाकर अपने भवन के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे. आने वाले समय में शहरवासियों को अधिक होल्डिंग टैक्स देने के लिये तैयार रहना होगा.

जिन लोगों ने अपने भवन में और ज्यादा कमरे बनवा लिये हैं या आवासीय भवन में व्यवसायिक इस्तेमाल कर रहे हैं तो उन्हें सर्वे के बाद अधिक होल्डिंग टैक्स देना होगा. मकान के जितने हिस्से का कर निर्धारण पूर्व में किया गया है. बाद में कितना और निर्माण कराया गया और वह हिस्सा होल्डिंग टैक्स के दायरे में है या नहीं. सर्वे के बाद ऐसे सभी मकानों का होल्डिंग टैक्स बढ़ जायेगा.

NALANDA REPORTER

पुराने होल्डिंग टैक्स वाले भवनों का हो चुका है नया निर्माण

शहर में ऐसे भवनों की संख्या काफी अधिक है, जिनमें काफी परिवर्तन हुआ है. कमरों की संख्या बढ़ी है, लेकिन होल्डिंग टैक्स पुराना ही जमा किया जा रहा है. बहुत से आवासीय भवनों में व्यवसायिक गतिविधियां संचालित करने, भवन में अधिक निर्माण कराने आदि का पता चलने के बाद नये सिरे से भवनों के होल्डिंग टैक्स का निर्धारण होगा.

स्ट्रीट लाइट व सफाई व्यवस्था आदि की भी जानकारी

सर्वे के दौरान घरों की जानकारी के साथ ही उस वार्ड में स्ट्रीट लाइट, सफाई की व्यवस्था, मोबाइल टावर, पेयजल की व्यवस्था आदि की भी जानकारी इकट्ठा की जायेगी. सर्वे के दौरान प्रत्येक घर को यूनिक कोड आवंटित किया जायेगा. इससे पता चलेगा कि मकान किस वार्ड के किस गली में अवस्थित है. सर्वे के दौरान मकान की फोटो भी ली जायेगी.

क्या कहते हैं अधिकारी

नगर निगम क्षेत्र में घर-घर जाकर मकान का सर्वे किया जायेगा. सबसे पहले एक वार्ड में सर्वे का ट्रायल किया जायेगा. उसके बाद पूरे शहर के सभी वार्डों का सर्वे किया जायेगा.सर्वे का ट्रायल 20 से 25 दिन में शुरू होगा. इसके लिये प्रक्रिया तैयार की जा रही है.इसपर विचार-विमर्श चल रहा है.
अंशुल अग्रवाल, नगर आयुक्त, बिहारशरीफ

Share on:

Nalanda Reporter is Bihar Leading Hindi News Portal on Crime, Politics, Education, Sports and tourism.

Leave a Comment