राजगीर जू सफारी में जानिए कब से मिलेगा घूमने का मौका ?

नालंदा : 15 जनवरी को मुख्यमंत्री बिहार और उप मुख्यमंत्री बिहार के द्वारा राजगीर वेणु वन के विस्तार और घोड़ा कटोरा झील के पास बनाए गए पार्क का उद्घाटन किया जाएगा।

वेणुवन क्या है ?

वेणु वन एक ऐतिहासिक स्थल है। वेणुवन में एक कृत्रिम जंगल है, जिसे शांति और ध्यान का आनंद लेने के लिए बनाया गया है। यह भगवान बुद्ध के लिए सम्राट बिम्बिसार द्वारा बनाया गया एक खूबसूरत मठ है। जहां पर यह मान्यता है कि भगवान बुध अपने शिष्यों के साथ पर वर्षावास करते थे। और उसी को ध्यान में रखते हुए वेणु वन में बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं और साथ में जो बौद्ध धर्मालंबी हैं वह भी यहां मेडिटेशन और पूजा के लिए आते हैं।

NALANDA REPORTER

वेणु वन पहले काफी छोटा था लेकिन सरकार ने वन विभाग को उसके बगल में जमीन दी तो अब वेणु वन का काफी विस्तार कर दिया गया है। और वहां पर्यटकीये सुविधाओं का भी विस्तार किया गया है। वेणु वन में बच्चों के लिए खेलने कूदने की जगह, कैफेटेरिया, ऑडिटोरियम जैसे कई सारी चीजें बनाई गई हैं। तालाब का भी सौंदर्यीकरण किया गया है। कई तरह के पेड़ पौधे खास तौर पर वेणु (बांस) की कई प्रजातियां लगाई गई हैं। ताकि वेणु वन का जो मूल स्वरूप था वह बरकरार रह सके।

इसी तरह से घोड़ा कटोरा में झील में भगवान बुद्ध की एक बड़ी प्रतिमा बहुत पहले लगाई गई थी और अब उसके किनारे 4 एकड़ में पार्क बनाया गया है। ताकि वहां जो पर्यटक आते हैं उनके लिए एक अतिरिक्त आकर्षण हो। वहां पर बच्चे खेल कूद सके। घोड़ा कटोरा राजगीर के पास एक अत्यंत सुंदर पिकनिक स्थल है।

घोड़ा कटोरा क्या है ?

हिंदू पुराणों के अनुसार यहाँ राजा जरासंध (भारतीय महाकाव्य महाभारत से) का अस्तबल था, इसलिए इस जगह का नाम घोड़ा कटोरा पड़ा। यह विश्व शान्ति स्तूप के पास स्थित है।
छोटी छोटी पहाड़ियों से घिरी यह झील बहुत सुंदर दिखाई देती है और घूमने के लिए यह एक उत्तम जगह है। आप तांगा और साइकल से यहाँ पहुँच सकते हैं। आप यहाँ नौका विहार (Boating) का आनंद भी उठा सकते हैं।

NALANDA REPORTER

वहां पर एक वॉच टावर भी बनाया गया है जिसके ऊपर चढ़कर लोग राजगीर के खूबसूरत नजारे देख सकते हैं। इन दोनों सुविधाओं का 15 जनवरी को मुख्यमंत्री बिहार नीतीश कुमार के द्वारा उद्घाटन किया जाएगा।

राजगीर जू सफारी कब खुलेगा ?

फरवरी के महीने में राजगीर में जू सफारी और नेचर सफारी को भी खोला जाएगा। जू सफारी 400 एकड़ से ज्यादा में बना हुआ है यहां पर शेर भालू बाघ हिरण तेंदुआ रहेंगे और जानवर एक तरह के बड़े पिंजरा में खुले में रहेंगे। वहां जो दर्शक जाएंगे बंद बसों से उन्हें देख सकेंगे।

नेचर सफारी (Rajgir Wildlife Sanctuary) में 800 मीटर का जीप लाइन, स्काइ वाक, तितली पार्क, आयुष पार्क, बिहार दर्शन जोन, ट्री हट, शूटिंग रेंज, अर्चरी, रॉक क्लाइमिंग के साथ ही मिट्टी और लकड़ी से कई कॉटेज का निर्माण किया जा रहा है.

Nalanda News से जुड़े, ताजा अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें।

Share on:

Nalanda Reporter is Bihar Leading Hindi News Portal on Crime, Politics, Education, Sports and tourism.

Leave a Comment